You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

मुख्यमंत्री जनकल्याण (संबल) योजना पुनः प्रारंभ

13 May 2020

मध्यप्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री जनकल्याण (संबल) योजना पुनः प्रारंभ की गई है। 05 मई 2020 को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 1903 हितग्राहियों के खाते में 41.33 करोड़ रुपए ई-भुगतान के माध्यम से ट्रांसफर कर मुख्यमंत्री जनकल्याण (संबल) योजना को पुनः प्रारंभ किया। री-लांच के बाद योजना में मुख्यमंत्री ने गरीबों को नई सौगात दी है। संबल केवल योजना नहीं है, बल्कि यह गरीबों का सहारा है, बच्चों का भविष्य है, बुजुर्गों का विश्वास है और माँ, बहन-बेटियों का सशक्तिकरण है। संबल योजना के माध्यम से निर्धन आबादी को न्याय देना, उनको सुविधाएँ देना है।

श्रमिक इस योजना से जुड़ने के लिए ऑनलाइन पोर्टल http://shramiksewa.mp.gov.in पर पंजीयन कर लाभ ले सकते हैं। मुख्यमंत्री जनकल्याण (संबल योजना) का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन के अलावा प्रदेश का कोई भी श्रमिक अपनी ग्राम पंचायत/ज़ोन में संपर्क कर अपना पंजीयन करवा सकता है। पोर्टल पर पंजीयन हो जाने के बाद श्रमिकों को निम्न योजनाओं में लाभ मिलता है।

  प्रसव पूर्व जांच (ANC) प्रोत्साहन राशि योजना
  प्रसव उपरांत सहायता राशि योजना
  स्कूल शिक्षा प्रोत्साहन योजना
  सुपर 5000 योजना
  खेलकूद प्रोत्साहन योजना
  अंत्येष्टि सहायता योजना
  अनुग्रह सहायता (सामान्य मृत्यु एवं दुर्घटना मृत्यु) योजना
  अनुग्रह सहायता (स्थायी अपंगता एवं आंशिक स्थायी अपंगता) योजना
  आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत लाभान्वित संबल परिवार
  मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा (पीडीएस) योजना के अंतर्गत लाभान्वित संबल परिवार

संबल योजना की विशेषताएं

• प्रसव पूर्व व उपरांत सहायता राशि योजना
इस योजना के जरिए गरीब महिलाओं के प्रसव के पहले उन्हें 4,000 रुपए और बच्चे के जन्म के बाद 16,000 रुपए और पोषक आहार भी दिया जाएगा।

• स्कूल शिक्षा प्रोत्साहन योजना
योजना कें अंतर्गत आने वाले विद्यार्थियों की पढ़ाई निःशुल्क होगी, जिसका वहन प्रदेश सरकार उठाएगी। 8वीं तक किताबें, यूनिफार्म, स्कूल में मध्यान्ह भोजन की मुफ्त व्यवस्था की जाएगी।

• सुपर 5000 योजना
अब संबल योजना के तहत हितग्राही सदस्यों के ऐसे पांच हजार बच्चे जो 12वीं में सर्वाधिक अंक लाएंगे, उन्हें 30,000 रुपए प्रोत्साहन राशि के तौर पर दिए जाएंगे। यदि कक्षा 12वीं के बाद मेडिकल कॉलेज में, चिन्हित आईआईटी, आईआईएम, उच्च संस्थान में सिलेक्शन होता है तो फीस की व्यवस्था भी प्रदेश सरकार करेगी।

• खेलकूद प्रोत्साहन राशि
बच्चों में खेलों को बढ़ावा देने के लिए संबल योजना में पंजीकृत परिवार के ऐसे सदस्य जो अखिल भारतीय विश्वविद्यालयीन राष्ट्रीय खेल कूद प्रतियोगिता में भाग लेते है तो उन्हें 50,000 रुपए की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।

• अनुग्रह सहायता योजना
हितग्राहियों को मुख्य रूप से सामान्य और असामयिक मृत्यु पर 2 लाख रूपये, दुर्घटना में मृत्यु पर 4 लाख रूपये, स्थायी अपंगता पर 2 लाख रूपये एवं आंशिक स्थायी अपंगता में एक लाख रूपये की सहायता देने का प्रावधान है।

ऑनलाइन हितलाभ वितरण की प्रक्रिया

  www.shramiksewa.mp.gov.in पर जाकर ऑनलाइन हितलाभ हेतु पंजीयन के बारे में जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

 हितलाभ हेतु निर्धारित प्रारूप में आवेदन संबंधित ग्राम पंचायत, जनपद पंचायत, नगरीय निकाय में जमा किया जा सकता है। चूंकि हितलाभ ऑनलाइन वितरित किया जाता है; तो आवेदन के साथ आधार कार्ड, मोबाइल नम्बर, बैंक खाता क्रमांक और बैंक का आईएफएससी कोड देना होगा।

Total Comments - 0

Leave a Reply