You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

इलाज के खर्चे की चिंता खत्म; ‘‘हिमकेयर’’ में करवाएं पंजीकरण, अंतिम तिथि 20 जून

04 Jun 2019

शायद जिंदगी का सबसे बुरा वक्त वो होता है जब कोई व्यक्ति बीमारी से ग्रसित हो जाए और उपचार के लिए धन न हो। जाहिर है कि ऐसी स्थिति में आर्थिक रूप से कमजोर मरीज को जिंदगी की जंग से हार माननी पड़ती है! इन्हीं पहलुओं के मद्देनजर मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी के नेतृत्व वाली हिमाचल सरकार ने स्वास्थ्य क्षेत्र में ‘‘हिमकेयर’’ नामक योजना शुरू की है। इस योजना के तहत 5 लाख रुपए तक का उपचार निशुल्क किया जाता है। यही नहीं यह सुविधा कुछेक निजी अस्पतालों में भी शुरू करवाई गई है। ऐसे में जो योजना के पात्र व्यक्तियों का उपचार निजी अस्पतालों में भी निशुल्क होगा।

केंद्र सरकार द्वारा स्वास्थ्य क्षेत्र में शुरू की गई ‘‘आयुष्मान भारत’’ योजना के अंतर्गत प्रदेश में शेष बचे परिवारों को 5 लाख रुपए तक की स्वास्थ्य सुरक्षा सुविधा प्रदान करने के लिए राज्य सरकार ने ‘‘हिमकेयर योजना’’ को शुरू किया है। इस योजना में 5 लाख रुपए तक की स्वास्थ्य सुरक्षा सुविधा बिना किसी इंश्योरैंस प्रीमियम के प्रदान की जाएगी।

इस वेबसाईट पर करें पंजीकरण
हिमाचल सरकार द्वारा प्रदेश में हिमकेयर योजना का आरंभ 1 जनवरी, 2019 को किया गया था। आचार संहिता लागू होने के कारण इस योजना के अंतर्गत कार्ड बनाने का कार्य बीते 29 अप्रैल, 2019 को चुनाव आयोग के निर्देशों के तहत कार्ड बनाने का कार्य बंद कर दिया था। अब योजना के अंतर्गत पुनः नए कार्ड बनाने का कार्य शुरू किया गया है। पंजीकरण करवाने की अंतिम तिथि 20 जून, 2019 निर्धारित की गई है। अब तक 4.34 लाख परिवारों को इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत किया गया है। ऑनलाईन पंजीकरण प्रक्रिया पूरी करने के लिए https://app.hpsbys.in/WebSite/onlineenrollment.aspx वेबसाईट पर क्लिक करें और यहां दर्शाई गई औपचारिकताओं को भरें।

आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को छूट…
हिमकेयर योजना के अंतर्गत प्रदेश सरकार द्वारा प्रीमियम की दरें निर्धारित की गई हैं। इसके तहत गरीबी रेखा से नीचे (बी.पी.एल.) पंजीकृत रेहड़ी-फड़ी वाले (जोकि आयुष्मान भारत योजना में पंजीकृत नहीं है) और मनरेगा के अंतर्गत जिन्होंने बीते वर्ष 50 दिन या उससे अधिक कार्य किया है, से प्रीमियम नहीं लिया जा रहा है।
इसके अतिरिक्त एकल नारी, 40 प्रतिशत से अधिक दिव्यांग, 70 वर्ष की आयु से अधिक वरिष्ठ नागरिक, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता-सहायिकाएं, आशा कार्यकर्ता, मिड-डे मील कार्यकर्ता, दिहाड़ीदार ( सरकारी, स्वायत्त संस्थानों, सोसायटी, बोर्ड एवं निगम के कर्मचारी), अनुबंध कर्मचारी और आउटसोर्स कर्मचारी से केवल 365 रुपए और उपरोक्त के अतिरिक्त जो व्यक्ति नियमित सरकारी कर्मचारी या सेवानिवृत कर्मचारी नहीं है, केवल 1000 रुपए देकर योजना के अंतर्गत कार्ड बनवा सकते हैं।

पंजीकरण करवाने के लिए ये दस्तावेज जरूरी
हिमकेयर योजना के अंतर्गत लोकमित्र केंद्र/कॉमन सर्विस सेंटर नामांकन करने और निर्धारित दस्तावेज को अपलोड करने के लिए लाभार्थी को प्रीमियम के अतिरिक्त 50 रुपए का शुल्क अदा करना होगा। पंजीकरण करवाने के लिए राशन कार्ड, आधार कार्ड व संबंधित विभाग से प्रमाणपत्र अनिवार्य होगा।

 

Total Comments - 0

Leave a Reply