You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

झारखण्ड यूनिफाइड डायल 100

03 Dec 2020

झारखण्ड पुलिस यूनिफ़ाइड डायल -100 परियोजना की स्थापना राज्य आपातकालीन प्रतिक्रिया प्रणाली का एक हिस्सा है, जो रांची के साथ साथ जिलों में इसकी शाखा स्थित है, जिससे की सार्वजनिक सुरक्षा से सम्बंधित आपात स्थितियों की सुचना प्राप्त करने की सुविधा के लिए 100 नंबर का परिचालन की उपलब्धता को रात-दिन राज्य भर में और संबंधित डिस्ट्रिक्ट कमांड एवं कंट्रोल रूम को कॉल स्थानांतरित करने के लिए सुनिश्चित करना।

पुलिस फील्ड सेवाएं 320 पीसीआर (पुलिस नियंत्रण कक्ष) वाहन द्वारा प्रदान की जाएंगी, जो सीधे नियंत्रण में तैनात हैं, जिसका लक्ष्य शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों प्रतिक्रिया कम से कम समय में हो सके।

परियोजना सारांश

पब्लिक डिस्ट्रेस कॉल को संभालने के लिए एक केंद्रीयकृत और स्वचालित प्रणाली को लागू करने के लिए “यूनिफाइड डायल 100” झारखंड राज्य पुलिस की पहल है। यह पीएसटीएन / वायरलेस मीडिया, आईपी टेलीफोन और सीटीआई आधारित सॉल्यूशन का उपयोग करता है, ताकि वाहन माउंट टर्मिनलों पीसीआर वैन और जीपीएस के माध्यम से ऑटोमैटिक व्हीकल ट्रैकिंग सिस्टम का उपयोग करके स्टेट कमांड एंड कंट्रोल सेंटर और डिस्ट्रिक्ट कंट्रोल रूम, गाइड्स और पीसीआर वैन और अन्य स्टेक होल्डर्स को कुशलता पूर्वक कॉल करने के लिए संकट से निपटने में मदद मिल सके। ।

• प्रभावी निगरानी और निर्णय समर्थन के लिए सिस्टम में निर्मित गहराई से विश्लेषण।

• प्रभावी निगरानी के लिए डैशबोर्ड।

• एक क्लिक के साथ विभिन्न मानदंडों पर रिकॉर्ड के माध्यम से खोज।

डायल 100 के बारे में

  • सभी कॉल प्राप्त करने के लिए रांची में स्टेट कमांड एंड कंट्रोल सेंटर।
  • 24 जिला मेंनियंत्रण केंद्र।
  • फील्ड सहायता के लिए 320 पीसीआर वैन तैनात।
  • पुलिस 15 मिनट के टारगेट समय के भीतर घटना स्थान पर पहुंचने के लिए।
  • प्रत्येक कॉल रिकॉर्ड किया जाता है।
  • झारखंड पुलिस के अपने नेटवर्क के आधार पर।
  • पूरा सिस्टम झारखंड पुलिस आईटी विंग द्वारा विकसित किया गया है।

विशेषताएं

  • तेजी से वितरण के लिए न्यूनतम हस्तक्षेप के साथ सभी आवश्यक स्तरों तक जानकारी का निर्बाध प्रवाह।
  • डेटा सेफ्टी और प्रोटेक्शन के लिए डिजास्टर रिकवरी मैकेनिज्म है।
  • प्राप्त किसी भी संकट कॉल के बारे में जानकारी, स्वचालित रूप से उनके अंत में आवश्यक कार्रवाई के लिए संबंधित चैनल की स्क्रीन पर फ़्लैश होतीहै।
  •  मल्टी-चैनल सपोर्ट जिसमें आईपी फ़ोन से आई पीफ़ोन,आईपी फ़ोन से वी.एच.एफ (वैरी हाई फ्रीक्वेंसी)आदि शामिल हैं।

कार्यवाही

  • जब संकट में
  • डायल 100
  • अपनी शिकायत दर्ज करें
  • पुलिस तुरंत जवाब देगी।
  • पुलिस मौके पर पहुंचेगी
  • आपातकालीन सेवाएं प्रदान की जाएंगी
  • स्थानीय पुलिस मामला दर्ज करेगी
  • शिकायत कर्ता की 100% संतुष्टि

 

 

Total Comments - 0

Leave a Reply