You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

रोजगार के अवसर अब आपके द्वार

19 Jun 2019

मध्य प्रदेश राज्य सरकार ने प्रदेश के शिक्षित बेरोजगार नागरिकों के लिए जिला रोजगार कार्यालय स्थापित किया है। जहां पर शिक्षित बेरोजगार नागरिक अपना पंजीकरण करा के कार्यालय द्वारा प्रदान की जाने वाली विभिन्न सेवाओं का आसानी से लाभ प्राप्त कर सकते हैं। जिला रोजगार कार्यालय शिक्षित बेरोजगार नागरिकों को रोजगार दिलाने का प्रमुख काम करते हैं।  सभी सरकारी, गैर सरकारी एवं अर्धसरकारी कंपनियां जिला रोजगार कार्यालय के माध्यम से पंजीकृत नागरिकों से संपर्क करके रोजगार उपलब्ध कराती है।

पोर्टल का मुख्य उद्देश्य

ये पोर्टल युवा सशक्तिकरण मिशन के अंतर्गत मध्यप्रदेश कौशल विकास एवं रोजगार निर्माण बोर्ड द्वारा तैयार किया गया है। इस पोर्टल को शुरू करने का उद्देश्य युवाओं को उनकी शैक्षणिक योग्यता, क्षमता एवं रुचि के अनुसार रोजगार उपलब्ध करवाना है। उसके अलावा ये पोर्टल नियोजक को अपने व्यवसाय के अनुसार योग्य उम्मीदवार की उपलब्धता सुनिश्चित करने के उद्देश्य से भी  परिपूर्ण है। अगर आप भी बेरोजगार है और रोजगार की तलाश में है तो आपको एक बार इस पोर्टल पर जरूर जाना चाहिए।

रोजगार विभाग के मुख्य कार्य

  • नौकरीपेशा लोगों का पंजीकरण और उन्हें नियुक्ति दिलाना।
  • रोजगार चाहने वालों के साथ-साथ स्कूलों और कॉलेजों और विश्वविद्यालय के छात्रों के लिए व्यावसायिक और कैरिअर मार्गदर्शन प्रदान करना।
  • व्यावसायिक और कैरिअर मार्गदर्शन साहित्य का प्रकाशन और प्रसार।
  • उन व्यक्तियों को रोजगार सहायता और मार्गदर्शन प्रदान करना, जो रोजगार, उच्च शिक्षा या पेशेवर प्रशिक्षण के लिए विदेश जाने के इच्छुक हैं।

रोजगार मेला का आयोजन

इसके साथ ही समय-समय पर प्रदेश सरकार द्वारा रोजगार मेला का भी आयोजन किया जाता है। जिसमें जिला रोजगार कार्यालय की अहम भूमिका होती है। जिला रोजगार कार्यालय द्वारा प्रदान की जाने वाली सभी सुविधाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए आपको अपना पंजीकरण जिला रोजगार कार्यालय में करवाना होता है। उसके पश्चात्  ही आपको सभी प्रकार की सुविधाएं प्रदान की जाती है।

व्यावसायिक मार्गदर्शन कार्यक्रम

इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य स्कूलों/ कॉलेजों के छात्रों को मार्गदर्शन और रोजगार परामर्श प्रदान करना है और रोजगार एक्सचेंजों के साथ पंजीकृत युवाओं को उनकी शैक्षिक और मानसिक क्षमताओं और वर्तमान रोजगार अवसरों को ध्यान में रखकर पंजीकृत करना है। व्यावसायिक  मार्गदर्शन स्वतंत्र और स्वैच्छिक है और सभी रजिस्टर्ड स्कूलों और विश्वविद्यालय के छात्रों के लिए उपलब्ध है।15 व्यावसायिक मार्गदर्शन इकाइयाँ और चार उप निदेशक (व्यावसायिक मार्गदर्शन) राज्य में कार्य कर रहे हैं।

स्वरोजगार

सरकार राज्य में स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए सबसे अधिक प्रयास कर रही है, खासकर शिक्षित बेरोजगार युवाओं के लिए प्रत्येक जिले में विभिन्न माध्यमों के द्वारा उन्हें स्वरोजगार की जानकारी उपलब्ध करवाना।

चलिए इस पोर्टल से जुड़े कुछ खास तथ्य जानते हैं

सबसे पहली बात कि आप इस पोर्टल में अपना अकाउंट बना सकते हैं। अपने अकाउंट में अपनी पसंदीदा जॉब, कार्यक्षेत्र, सेक्टर और रोल के हिसाब से उसे कस्टमाईज किया जा सकता है। अपने प्रोफाइल अकाउंट में सर्च करने पर आपके सामने अपनी रूचि और योग्यता के अनुसार जॉब देने वाली कंपनियों की सूचना मिलेगी। इन कंपनियों के लिए आप एक क्लिक के जरिए आवेदन भी कर सकते हैं। यहाँ नि:शुल्क अकाउंट खोला जा सकता है, इस पोर्टल पर नियोजक कंपनी और बेरोजगार अपना अकाउंट नि:शुल्क बना सकते हैं। इसमें आप जब चाहें तब अपनी प्रोफाइल अपडेट कर सकते हैं। इसके अलावा नियोजक कंपनी जब भी चाहे अपने जॉब्स को अपडेट कर सकती है, अपडेट करने के बाद नियोक्ता के पास उस जॉब के लिए योग्यताधारी लोगों की प्रोफाइल खुलेगी। इस पोर्टल के माध्यम से ही नियोजक आवेदन आमंत्रित कर आवेदक को इन्टरव्यू के लिए बुला सकता है।

पोर्टल की प्रमुख विशेषताएँ

ये पोर्टल पूरी तरह से यूजर फ्रेंडली है और युवाओं के लिए बनाया गया है। इस पोर्टल पर आपको पंजीयन, जॉब प्रीफरेंस को अपडेट करने, नियोक्ता की जानकारी, सेक्टर एवं जॉब रोल के आधार पर ऑनलाइन आवेदन की सुविधा भी मिलेगी। इसके अलावा इंटरव्यू एवं जॉब फेयर की जानकारी आपको अपने मोबाइल और ई-मेल पर अलर्ट के माध्यम से मिलती रहेगी। इसके अलावा जॉब देने वाली कंपनियां भी अपना रजिस्ट्रेशन करके अपनी ज़रूरत के आधार पर जॉब पोस्ट कर सकती है। एजुकेशन प्रीफरेंस डालने पर आवेदको की सूचि कंपनियों को उपलब्ध होगी। माय एमपी रोजगार पोर्टल पर जाने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Total Comments - 0

Leave a Reply