You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

”मन की बात” कार्यक्रम से बदला लोगों का नजरिया

Manohar Lal
08 May 2018

”Visionary Leaders के पास प्रत्येक कार्य के लिए एक स्पष्ट योजना होती ही है, इसके अलावा वे एक backup plan भी हमेशा तैयार रखते हैं। जिससे वे कम समय में ही अपने इच्छित लक्ष्य को पा लेते हैं”। आज पूरा संसार मान चुका है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र भाई मोदी भी एक Visionary Leader है, जो तथ्यों पर बेहतर पकड़, देश के सामने मौजूद मुद्दों की स्पष्ट समझ रखते हैं। मन की बात कार्यक्रम से उन्होंने लोगों का नजरिया बदला है। गत रविवार को कार्यक्रम के 43वें संस्करण में उन्होंने एकबार बताया कि वे हर विषय बिंदु को एक विशाल पैमाने पर देखते हैं। कार्यक्रम में उन्होंने दर्शकों को राष्ट्रमण्डल खेलों में हिस्सा लेने वाले हजारों खिलाड़ी के जोश, जज्बे, उत्साह, उनकी आशाओं और आकांक्षाओं से भरे माहौल को स्मरण कराया। मुझे भी इसबार पानीपत जिले के बबैल गांव में ग्रामीणों के साथ यह संस्करण सुनने का मौका मिला।

निसंदेह यह कार्यक्रम हरियाणा के लिहाज से गौरवाविंत करने वाला है। जब प्रधानमंत्री जी ने कहा कि राष्ट्रमण्डल खेलों में भारत ने कुल 66 पदक जीते है। इस खेल में भाग लेने वाले एथलीट्स, देश के अलग-अलग भागों से, छोटे-छोटे शहरों से आए हैं। अनेक बाधाओं, परेशानियों को पार करके यहां तक पहुंचे हैं। हर भारतीय को यह सफलता गर्व दिलाती है। मुझे इसबात की खुशी है कि इन कुल पदकों में से 22 पदक हरियाणा के खिलाडियों ने जीते हैं। हमारी सरकार खिलाडियों को हर तरह की सुविधा देने के लिए कटिबद्ध है। यह खुशी की बात है कि मात्र 15 साल की आयु में गोल्ड मैडल लाने वाला अनीष भनवाला करनाल जिले है। जिसने हरियाणा ही नहीं, अपितु पूरे भारत वर्ष का नाम रोशन किया है। प्रधानमंत्री जी ने कहा कि कहा कि 21 जून निकट आ गया है। इसलिए आज से ही सभी लोगों को योगाभ्यास आरम्भ कर देना चाहिए। योग से जहां तन-मन स्वस्थ रहता है। प्रधानमंत्री की बातों से प्रेरणा लेते हुए हरियाणा सरकार  5 मई को 401 गांवों में एक साथ व्यायामशालाओं का उदघाटन करेगी ताकि अधिकतर गांवों में खिलाडियों को खेल व योगाभ्यास करने का स्थान व आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा सकें। प्रधानमंत्री जी ने अपने संबोधन में कहा कि युवाओं को समय का सदुपयोग करते हुए आईएएस, आईपीएस, एचसीएस जैसी परीक्षाओं में पूरी तैयारी के साथ भाग लेना चाहिए।

हमारे लिए गर्व की बात है कि 2017 की प्रतिष्ठित सिविल सर्विसेज परीक्षा में प्रदेश के होनहार छात्रों ने बेहतर प्रदर्शन किया है। सोनीपत की अनु कुमारी ने इस परीक्षा में पूरे देश में दूसरे स्थान पर रही। अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने दूरदर्शन पर प्रकाशित होने वाली गुड न्यूज का जिक्र किया। क्योंकि प्रतिदिन हम गुड न्यूज के माध्यम से भारत में होने वाली सुखद घटनाओं और समाचारों के माध्यम से हो रहे देश के विकास से सम्बन्धित जानकारी प्राप्त कर सकते है। एक गुड न्यूज सांझी करते हुए मुझे अच्छा लग रहा है कि हरियाणा देश का ऐसा एकमात्र प्रदेश है, जो कैरोसीन मुक्त प्रदेश है। अब हमारी किसी बहन-मां का स्वास्थ्य खराब नहीं होगा। हमारी सरकार ने जल संरक्षण के लिए प्रदेश के सभी तालाबों की खुदाई करवाने और उन्हें पूरा संरक्षण देने के लिए हरियाणा तालाब विकास प्राधिकरण का गठन किया है। प्रधानमंत्री जी का यह कहना कि लोगों को सबको साथ लेकर चलना चाहिए और खुशी-खुशी हैपीनेस के साथ अपना जीवन व्यतीन करना चाहिए। एकदम ठीक बात है क्योंकि आज की भागदौड भरी जिंदगी में हम जीवन के सुकुन को भूल गए है। जबकि भूटान जैसे देश आर्थिक सुधार के साथ हैपीनेस पर फोकस रखता है। भूटान में बाकी इंडेक्स के साथ हैपीनेस के इंडेक्स होते है। केंद्र सरकार का स्वच्छ भारत ग्रीष्मकालीन इंटर्नशीप प्रोग्राम काबिले तारीफ है। मैं युवाओं से आहवान करता हूं कि वे इंटर्नशिप के लिए ज्यादा से ज्यादा संख्या में हिस्सा लें और अपने समय का सदुपयोग करें। इसी से प्रेरित होकर प्रदेश सरकार ने भी इंजीनियर स्टूडेंटस के लिए एक प्रोग्राम बनाया है। जिसके तहत वे एक गांव को गोद लेकर वहां की समस्याओं को चिंहित करेंगे और उन कार्यो की प्रोजेक्ट रिपोर्ट (DPR) तैयार करेंगे। साथ ही हम महिलाओं को स्वावलंबी बनाने का भरकस प्रयास कर रहे है। ताकि महिलाएं अपने फालतू समय में कमाई के लिए छोटे-मोटे काम जरूर कर सकें। प्रदेश सरकार स्वयं सहायता समूहों को लोन की व्यवस्था सुनिश्चित कर रही है। इस साल हमने बाजरे की सरकारी खरीद की है। हम बाजरे के माध्यम से अच्छे और पौष्टिक आहार बनाने का उदाहरण प्रस्तुत करना चाहते है। आदरणीय प्रधानमंत्री जी की दूरगामी सोच का अनुकरण करते हुए प्रदेश लगातार विकास की बुलंदियों को छू रहा है। ऐसे सुखद परिणामों की झलक प्रदेश के समग्र विकास में देखी जा सकती है।

मनोहर लाल

मुख्यमंत्री, हरियाणा सरकार 

Total Comments - 0

Leave a Reply

Latest Editorials

14 अप्रैल, 2018 से 05 मई, 2018 तक “ग्राम स्वराज अ
”Visionary Leaders के पास प्रत्येक कार्य के लिए
मानसून की फसल खरीफ को लेकर एक अच्छी खब